Monday, July 6, 2020

What is Share Market in hindi - शेयर मार्केट क्या है।

आज के इस आधुनिक युग मे सभी मनुस्य को पैसे की बहुत ही ज्यादा आवसकता है। जिस प्रकार मनुस्य पैसा कमाता है उसी प्रकार मनुस्य पैसे को खर्चा भी कर देता है वह बहुत बचाने की कोशिश करता है लेकिन बचा नहीं पाता है। पैसे को कमाने और बचाने से भी ज्यादा जरुरी है वह अपने पैसे को किसी सही जगह Invest करे और उस पैसे का इन्वेस्टमेंट भी किसी सही जगह होना चाहिये। जिससे आपका पैसा सुरक्षित रहे।


पैसे इन्वेस्ट करने का संसार का सबसे बड़ा और सही तरीका है - Share Market को हि हमलोग Stock Market भी कहते है।
Share का मतलब होता है - हिस्सा और Market का मतलब होता है - बाजार ।

अगर Share Market को हमलोग अपनी भाषा मे कहे तो उसका मतलब यह होगा मार्केट जहां से हमलोग अपनी जरुरत का सामान खरीदते या बेचते है और जरुरत पड़ने पर हमलोग उसमे हिस्सेदारी भी करते है।  
इसी तरह स्टॉक मार्केट मे भी हमलोग यही करते है वह से किसी भी कंपनी के शेयर को खरीदते है एवंम बेचते है।
Share market Kya Hai, Share market in hindi
Share Market Kya Hai

शेयर बाजार क्या है।

Share Market वह जगह अथवा वह बाजार होता है जहां पर सभी कम्पनिया अपने-अपने Stock अथवा Shares की खरीदी व बिक्री की जाती है। शेयर मार्केट वह बाजार है जहां पर सभी कम्पनिया अपने शेयर्स को खरीदती या बेचती है आप और हमारे जैसे कई लोग उन कम्पनियो के शेयर खरीद लेते है उस सोच मे की उनको प्रॉफिट होगा या नुकसान होगा। हमलोग पैसे लगा कर किसी भी कम्पनी के कुछ शेयर या हिसेदारी खरीद लेते है और फिर उस कम्पनी के उतने हिस्से के मालिक हो जाते है फिर हमलोग उस इंतज़ार मे बैठ जाते है भविष्य मे उस कम्पनी को फायदा होगा और हमारे पैसे दुगने हो जायेगे या उससे भी ज्यादा हो जायेगे अगर कम्पनी को घाटा हुआ तो आप को भी पैसो का घाटा होगा फिर आपको नुकसान उठाना पडेगा

भारत मे दो स्टॉक मार्किट है
1. BSE Ltd. (Bombay Stock Exchange)
2. NSE Ltd. (National Stock Exchange)

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को ही Sensex कहा जाता है यह भारत का सबसे बड़ा स्टॉक मार्किट है जिसकी शरुआत 1986 मे हुई थी इसे ही भारत का सबसे पुराना स्टॉक मार्किट कहा जाता है इसमे 30 सबसे बड़ी कम्पनियो की जानकारी हासिल होती है

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज को हमलोग Nifty के नाम से जानते है और इसकी शुरुआत नवंबर 1994 मे हुई थी नेशनल स्टॉक एक्सचेंज मे 50 कम्पनियो की जानकारी हासिल कर सकते है


शेयर मार्केट कैसे सीखे

शेयर बाजार मे इन्वेस्ट करना और पैसा लगाना बहुत बड़ा रिस्क का काम होता है लेकिन जिसको इस के बारे मे जानकारी होती है उनके लिए ज्यादा रिस्की नहीं होता है। अगर कोई व्यक्ति अपना पैसा सोच समझ कर किसी भी जगह इन्वेस्ट नहीं करता है तो वह अपने पैसो से हाथ धो बैठता है।

आप को इस व्यापार को सीखने के लिए कुछ स्टेप को फॉलो करना होगा।


1. शेयर मार्किट के बारे मे खुद रिसर्च करे

इसका मतलब यह है की आप खुद ही शेयर मार्केट के बारे मे रिसर्च करे और उसके बारे मे जानकारी ले। आप किसी भी दूसरे की कही सुनी बातो पर विशवाश न करे और जो आप लोगो ने देखा होगा की टीवी चैनल्स, यू टुबे पर अप्पको बहुत से लोग जानकारी देते होंगे लेकिन उनकी बातो को न सुने क्युकी अगर वो इतना ही ज्यादा जानते होते तो वह यह बैठ कर आपको समझा ना रहे होते वो घर पर बैठ कर पैसा कमा रहे होते ।
इसलिए आप खुद ही रिसर्च करे इसके बारे मे और ज्यादा से ज्यादा जानकरी प्राप्त करे किसी दूसरे पर विशवाश न करे।


2. जोखिम उठाने की छमता

आप लोग तो यह जानते ही होंगे की शेयर मार्केट कितना जोखिम भरा काम है यहाँ पर आपको कदम-कदम पर जोखिम उठाना पड़ता है। सभी लोगो की अपनी-अपनी सीमा होती है जोखिम उठाने की लेकिन अगर कोई भी व्यक्ति जोखिम उठाने की हिम्मत रखता है तो वही व्यक्ति शेयर मार्केट मे अपना पैसा लगा सकता है। और आप शेयर मार्केट मे उतना ही पैसा इन्वेस्ट करे जितने का आप रिस्क उठा सकते है। अगर आप उससे ज्यादा का इन्वेस्ट करते है और आप का लगाया हुआ पैसा डूब जाता है तो कंगाल हो सकते है इसलिए कहा गया है की उतना ही पैसा इन्वेस्ट करे जितने का आप जोखिम उठा सकते हो।

3. अच्छी कम्पनियो के शेयर मे इन्वेस्ट करे

आप उन्ही कम्पनियो के शेयर मे इन्वेस्ट करे जिसपर आप भरोसा करते हो या उस कम्पनी के उत्पांदों को यूज़ कर रहे हो आप उन्ही कम्पनियो पर भरोसा कर सकते है जो पुरानी है और उसकी हर साल की मार्केट अच्छी हो। और आप कभी भी किसी के कहने पर शेयर मार्केट मे इन्वेस्ट ना करे आप अपनी जानकारी के अनुसार ही अपने पैसे को इन्वेस्ट करे।

4. अपनी प्लानिंग के साथ काम करे

हमलोग किसी भी कार्य की शरुआत करते है तो उस कार्य के लिए हमलोग कुछ ना कुछ प्लानिंग के साथ कार्य करते है चाहे वो किसी भी फील्ड से रिलेटेड हो। उसी तरह शेयर मार्केट मे आपको कार्य करना है तो उसके लिए आपको प्लानिंग के साथ कार्य करना होगा तभी आपको शेयर मार्केट मे बाद मे पछताना न पड़े।


5. इमोशन को कन्ट्रोल करे

अगर किसी भी व्यक्ति को बहुत ही ज्यादा गुस्सा आता है तो वह शेयर मार्केट मे इन्वेस्ट करने के बारे मे सोचे भी न क्युकी उसको बहुत ही बड़ा झटका लग सकता है क्युकी शेयर मार्केट मे ऐसा होता ही रहता है किसी को नुकसान होता है तो किसी को फायदा होता है अगर किसी को नुकसान होता है तो वह अपना इमोशन को कन्ट्रोल मे रखे अगर आप एक बड़े इन्वेस्टर बनना चाहते है तो आपको अपने इमोशन को कन्ट्रोल करना सीखना पड़ेगा।


शेयर मार्केट मे शेयर कैसे खरीदे

शेयर मार्केट के अंदर आपको शेयर खरीदने के लिए आपको एक डीमैट अकाउंट की आवश्यकता है। इस अकाउंट की मदद से आप कम्पनी के शेयर मार्केट से शेयर खरीद सकते हो और शेयर मार्केट मे बेच भी सकते हो। आप अपना डीमैट अकाउंट किसी भी ब्रोकर से खुलवा सकते हो बहुत सारे शेयर ब्रोकर शेयर मार्केट के अंदर ब्रोकिंग का कार्य करते है जैसे -
share market in hindi
यह सब ब्रोकर है जो ब्रोकिंग अकाउंट खुलवाते है आप इसी की मदद से आप अपने शेयर इस अकाउंट मे रख सकते हो जिससे आप शेयर ख़रीदेते वा बेचते है जो की सुरक्षित रहते है। आपके डीमैट अकाउंट से आपका सेविंग अकाउंट भी जुड़ा रहता है। यदि आपका सेविंग अकाउंट नहीं है तो आप डीमैट अकाउंट नहीं खुल सकता है।


शेयर कब खरीदे और कब बेचे


अगर आप ने फैसला कर ही लिया है की आप शेयर मार्केट को ज्वाइन करके अपना बिज़नेस करना चाहते हो तो आप सभी कंपनियों की परफॉरमेंस और बिज़नेस से जुडी सभी खबरों को देखना चाहिए। आप को हर रोज कंपनियों से जुडी सभी खबरों पर नजर रखनी चाहिए। तब आपको धीरे-धीरे यह अंदाजा हो जायेगा की हमको कब शेयर मार्केट से शेयर खरीदना है और कब बेचना है। तब आप सही समय देख कर शेयर खरीद ले जब उसकी मार्केट वैल्यू कम हो और जब उसकी मार्केट वैल्यू बढ़ जाये तब आप उसको बेच दे। 

आप एक बात और ध्यान रखो शेयर मार्केट का व्यापर हफ्ते मे 5 दिन ही होता है और वह सुबह 9 बजे से लेकर शाम के 3.15 तक रहता है और इसका कार्यकम सोमवार से शुक्रवार तक ही रहता है।

शेयर मार्केट मे कंपनियों का कार्य

शेयर मार्केट के अंदर कंपनी के शेयर की खरीदारी व बिक्री की जाती है शेयर मार्केट के अंदर जब कोई कंपनी अपने शेयर को जारी करवाती है तो बहुत से निवेशक इसे खरीदते हैं फिर उन शेयर की खरीदारी और बिक्री शुरू हो जाती है अब कंपनी के शेयर की कीमत कभी घटती है तो कभी बढ़ती है।
वह कम्पनी के परफॉरमेंस के ऊपर निर्भर करता है उसी हिसाब से कम्पनी के शेयर की कीमत ऊपर-नीचे होती रहती है।

शेयर कंपनी की पूंजी का हिस्सा होता हैं जिससे कंपनी खरीदारी करती है जब कोई निवेशक कंपनी के साथ शेयर खरीदता है तो वह कंपनी के साथ हिस्सेदारी कर लेता है फिर जो फायदा कंपनी होता है वही फायदा निवेशक को होता है।

दोस्तों इस पोस्ट मे आप लोगो को बताया है शेयर मार्केट क्या है, यह कैसे कार्य करता है, इसमे से कब शेयर खरीदे व बेचे की जानकारी दी गयी है आप अगर और कुछ भी जानना चाहते है तो आप हमें कमेंट बॉक्स मे मैसेज कर सकते है और आप अगर अपना कुछ सुझाव रखना चाहते हो तो आप हमे हमारे Email-id पर मेल कर सकते है। 

No comments:

Post a Comment