-->
पाकिस्तान में मुसलमानों ने ही मुसलमानों के खिलाफ जंग छेडी

पाकिस्तान में मुसलमानों ने ही मुसलमानों के खिलाफ जंग छेडी


Author: कुन्दन गिरि

पाकिस्तान अपने ही देश में एक गृह युद्ध में फँस गया है। मुसलमानों का एक वर्ग दूसरे पंथ के खिलाफ विद्रोह की आवाज बुलंद कर रहा है । दुनिया के सभी इस्लामिक देशों में शिया और सुन्नी मुसलमान शांतिपूर्वक एक दूसरे के साथ रहते हैं लेकिन पाकिस्तान में सुन्नी मुसलमानों ने शिया मुसलमानों के खिलाफ इंकलाब छेड़ दिया है।

पूरे कराची में पिछले दिनों में शिया मुसलमानों के खिलाफ सड़कों पर रैलियां निकाली जा रही है । इन रैलियों में शिया को काफिर बताया जा रहा है । लगभग 30,000 की तादाद में सुन्नी मुसलमान कराची की सड़कों पर ‘शिया काफिर' का नारा बुलंद करते हुए कूच कर रहे थे । प्रमुख प्रदर्शनकारियों में मुनीब-उर-रहमान थे, जो पाकिस्तान सरकार से मान्यता प्राप्त रूअत-ए-हिलाल कमेटी के चेयरमैन हैं । यह वही संस्था है जो इस्लामिक कैलेंडर में चांद के दृश्य को दिखाने का अनुमोदन करता है। रहमान ने दावा किया कि रैली का उद्देश्य सिर्फ सहाबा की पवित्रता का चित्रण करना था इसमें किसी भी संप्रदाय विशेष को निशाना नहीं बनाया गया है ।

> कोरोना के बहाने पत्नी से छुटकारा पाने की कोशिश 😂😂😂

MI VS CSK कौन जीतेगा? CSK vs MI Voting Poll

रहमान की मानसिकता उनके इस बयान से स्पष्ट हो जाती है जिसमें उन्होंने कहा क जनगणना में दोनों पंथों के मातावलंबियों की संख्या निर्धारित कर देनी चाहिए यदि ऐसा नहीं किया गया तो प्रदर्शनकारी अपने धार्मिक भावनाओं के आहत होने के कारण नकारात्मक गतिविधियों में भी शामिल हो सकते हैं । पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के साथ हमेशा से जुल्म होता रहा है । अंतरराष्ट्रीय मंच पर पाकिस्तान स्वयं को एक लोकतांत्रिक देश घोषित करता है लेकिन इस प्रकार की गतिविधियों से उसके नाममात्र के लोकतंत्र की सच्चाई प्रकट हो जाती है । हाल ही में सूत्रों के हवाले से खबर मिली है कि पाकिस्तान के गुरद्वारा पंजा साहिब के ग्रंथि की बेटी का अपहरण दो मुस्लिम युवकों के द्वारा कर लिया गया और उसका धर्म परिवर्तन भी करा दिया गया। निरंतर चल रहे कोरोना महामारी से निपटने के बजाय पाकिस्तान अपने गतिविधियों का केंद्र धार्मिक उन्माद को बनाता जा रहा है जिसका मकसद सिर्फ इस्लाम के नाम पर अपना अस्तित्व बनाए रखना है भले ही इन नापाक करतूतों का इस्लाम से कोई वास्ता नहीं हो ।

0 Response to "पाकिस्तान में मुसलमानों ने ही मुसलमानों के खिलाफ जंग छेडी"

Post a Comment

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article